Sunday, June 14, 2015

मजबूरियाँ

ये क्या है जो मुझे हो रहा
क्यूँ मेरी नींद मेरा चैन सब खो रहा
तेरे आने से मिली एक नयी ज़िंदगी